Tag Archive | happy new year 2011

एक कविता

जनुअरी में आई प्यारी दीदी,

फेब्रुअरी में हुई मेरी शादी,

मार्च की होली थी एकदम अकेली,

अप्रैल की गर्मी थी बिलकुल थकेली,

मई में गई घूमने किहीम और अलीबाग,

जून भर बनाई चावल दाल मछली और साग,

जुलाई में की खूब कमाई,

अगस्त में एक बार पुणे घूम आई,

सितम्बर कर दिया एकदम कंगाल,

अक्टूबर में बहुत घूमी दुर्गा पंडाल,

नवम्बर में गई घूमने गोवा विथ आल,

दिसम्बर बीता इन दीघा एंड ससुराल,

ये था हिसाब ऑफ़ मेरा बीता हुआ साल,

आप सब का २०११ हो मस्त और खुशहाल

Advertisements